केरल में करने योग्य चीजें

 

शांत अलसाए बैकवाटर्स से अपने दिन की शुरुआत करें और गांव के लोकगीतों से अपने हृदय को शांति दें। जंगल की आवाज से अपने अंदर की आदिमता को जीवित करें। हाथियों को नहलाएं। दूर-दराज के इलाकों में मनाए जाने वाले त्योहारों का आनंद लें जो आपकी आत्मा पर अपनी छाप छोड़ जाते हैं। अपनी स्वाद ग्रंथियों को विभिन्न नए स्वादों को जानने का मौका दें। जंगल में कैंप लगाएं और रात्रि में प्रकृति के संगीत का आनंद लें, एकदम भोर की वेला पहाड़ों की धुंध को अंदर आकर आपको जगाने दें जो आपसे सुदूर बीते दिनों की यात्राओं के बारे में फुसफुसाकर कुछ कहती हैं...

Walk through the woods

जंगल में भ्रमण करें

केरल के वन विभाग द्वारा विकसित ईकोटूरिज्म की संभावनाओं का स्थानीय समुदाय के सक्रिय सहयोग और सहभागिता के साथ अवहगाहन करें। विस्तार से जानने के लिए www.keralatourism.org/ecotourism लिंक पर जाएं।

Ayurveda Rejuvenation

आयुर्वेद पुनर्यौवन

आयुर्वेद और पंचकर्म उपचारों के जरिए अपने शरीर और मन को ऊर्जस्वित करें... आयुर्वेद के प्रैक्टिशनर्स और पैकेज हेतु संपर्क के लिए यहां क्लिक करें। 

Houseboat cruise

हाउसबोट क्रूज

केरल के शांत बैकवाटर्स का आनंद लें... हाउसबोट्स के बारे में जानकारी और अपनी क्रूज की प्रीबुकिंग के लिए संबंधित डीटीपीसी से संपर्क करें या सीधे मान्यताप्राप्त हाउसबोट ऑपरेटर्स से संपर्क करें।

Village Life Experience

ग्रामीण जीवन का अनुभव

औद्योगीकरण के क्रूर हाथों और विकृत शहरीकरण की मार से अछूता केरल के ग्राम्य जीवन अनगिनत वरदाओं और प्रचुरताओं से युक्त है और यहां पर्यटकों को प्राकृतिक सौंदर्य के तारों की झंकार से बजने वाले गीत का रसास्वादन प्राप्त होता है। अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Vibrant Festivals of Kerala

धूमधाम से भरे केरल के भव्य त्योहार

‘ईश्वर के अपने देश’ में त्योहार वास्तविक आयोजन हैं; ये वे अवसर होते हैं जब केरल के सरल-सादे जीवन पर भव्यता, सजधज और उल्लास का रंग चढ़ कर बोलता है। ये त्योहार अधिकतर सुदूर इलाकों में मनाए जाते हैं और स्थानीय रिवाजों और परंपराओं के अनुसार अलग-अलग स्थान पर त्योहार की तिथि अलग-अलग हो सकती है। उसी अनुरूप अपनी यात्रा नियोजित करने के लिए आप टूर ऑपरेटर्स की मदद ले सकते हैं।

Sadya

सध्या

सध्या केरला का जायकेदार भोजन है जिसे केले के पत्ते पर परोसा जाता है और इसमें उपव्यंजनों की संख्या 16 से 60 तक होती है। जब आप केरल में हों और इसका आनंद लेना चाहें तो अपने टूर ऑपरेटर्स से संपर्क करें और स्वाद भरे सध्या का आनंद लें!

District Tourism Promotion Councils KTDC Thenmala Ecotourism Promotion Society BRDC Sargaalaya SIHMK Responsible Tourism Tourfed KITTS Adventure Tourism Muziris Heritage KTIL

टॉल फ्री नं.: 1-800-425-4747 (केवल भारत में)

पर्यटन विभाग, केरल सरकार, पार्क व्यू, तिरुवनंतपुरम, केरल, भारत - 695 033
फोन +91 471 2321132, Fax: +91 471 2322279, ई-मेल info@keralatourism.org
सर्वाधिकार सुरक्षित © केरल पर्यटन 2017, कॉपीराइट | प्रयोग की शर्तें। इनविस मल्टीमीडिया द्वारा विकसित व अनुरक्षित.